hindi kavita,short poem in hindi [ 2022 ]

Spread the love

hindi kavita,short poem in hindi
वो करीब आती है, मुझे रुकने भी नहीं देती,
मुझे छेड़ने और लड़ने भी नहीं देती।
जुदाई की बात कर
रुला देगी, फिर चुटकुला सुनाती है और रोने भी नहीं देती
जब मैं उसकी
छेड़खानी से नाराज़ हो जाती हूँ तो वह मुझे रोक लेती है और मुझे लड़ने ही नहीं देती
बिदाई के वक्त आंखों के कोनों में पानी के छींटे पड़ते हैं,
लेकिन वो आंसू आंखों से भी नहीं गिरते।
मेरे पास बहुत धैर्य है, तो भी यह मुझे
मेरे धैर्य का फल मीठा या कड़वा नहीं देता है
वह कहती है कि तुम मेरी दोस्त हो, तुम सबसे करीब भी नहीं हो,
वह प्यार में नहीं पड़ती और खुद को गिरने नहीं देती
– हेमंत

चोटी में उँगली के नाखून को छूकर
मैं बैठ गया, सज्जन!
मुझे एक बार एक पेपर लिखो
ऐसी परी का क्या नाम है, मोटी ओस का गुच्छा,
वालमजी बोल?
चुंबन और चुंबन, महोदय!
अब दूर करें पलकों का दर्द
सीनेhindi kavita,
में उठा सोता चाँद, पतला, पूछो, कहाँ हैं उसकी परछाईं?
छाल दूर नहीं जाती, सज्जन!
अब हलचल और गड़गड़ाहट

मेरी पतंग कितनी ऊँची है!
पूरे आकाश का एक अलग रंग है।

जाहिल जब खाता है तो कुछ देर के लिए चला जाता है,
हवा आने पर सिर पर बैठ जाती है।

लाल पीला नीला और धारीदार;
क्या सुंदर नाभि हार है!hindi kavita,

hindi kavita,short poem in hindi

यदि तुम अपनी पूंछ बांधते हो, तो तुम प्रश्नकर्ता बन जाते हो;
दोस्त एक दूसरे को घसीटकर दोस्त बनते हैं और धोखेबाज बन जाते हैं।

कभी खींच कर काटता हूँ, कभी जाने देता हूँ;
नानी मुन्नी हंस कर हंसा करती थी….खिल!

यदि डोरी ढीली हो, तो आकाश ही आकाश है;
उनके मन में मुझे ऐसा लग रहा है जैसे मैं प्रभुजी की उपस्थिति में पहुंच रहा हूं।

यह एक मजेदार जीवन है, मुस्कुराओ और हंसो,
प्रेम गीत के साथ गाओ।
समय चला गया तो वापस नहीं आएगा,
इसे ले लो और अपना जीवन जियो।

अधर्म और नीति सब झूठ हैं,hindi kavita,
सभी बंधनों को फेंक दो।

चारों ओर घास के मैदानों में फूलों को देखो, दूर से खिले फूलों
को जगाओ।hindi kavita,

यह मस्ती से भरा है।hindi kavita,

सभी दुखों और दर्दों को भूल जाओ,
और प्यार और मस्ती को दूर होने दो।

डरो मत, दोस्तों! एक छोटी सी मौत,
ओह मौत को भी हंसा दो।hindi kavita,

आइए एक साथ बैठकर अखबार पढ़ें,
पिछले वर्षों के फ्लैशबैक पढ़ें।
भंगुर कागज और फीके अक्षर हैं,
ध्यान से झुर्रियों को खोलें और पढ़ें।
क्या हुआ अगर पत्र पीला हो गया?
आइए पढ़ते हैं ताजा छिली हुई ओस।
अटके क्यों रहते हो?
आइए कठिन को मन से पढ़ें।
चिट्ठी के शब्द चेहरे पर फीके पड़ गए , आइए
इसे आंखों से पानी लेकर पढ़ें।
लो, अभी भी थोड़ी सी महक है,
आइए पढ़ते हैं पिमल को गहरी सांस के साथ।
सीलक में केवल ये पत्र रह गए,hindi kavita,
आगे या पीछे कुछ भी नहीं पढ़ा जा सकता है।

kavita,short poem in hindi

पीर बैरल से आया, नाशपाती की
सुनहरी आम
की चोंच.. नाशपाती को मत उड़ाओ।
मायर की खोरडू और मैयर की गवड़ी,
महापौर के सामने एक छोटी सी तलवार
, यह है मेरे मेयर
की गाड़ी, उसे चोट न लगे..
गाड़ी मत उड़ाओ।
परवदान में जनक ने जनेता
, परवदान में मेरा भाई.. परवदान में छोटी बंदी
, परवदान
में भोजई ।hindi kavita,

यह मेरी मां का घर है, यह मेरे दादाजी का घर है,
यह मुझे गेट से देख रहा है,
मैंने
इसे थंगन नृत्य करने दिया

पीर बैरल से आया, नाशपाती की
सुनहरी आम
की चोंच.. नाशपाती को मत उड़ाओ।

दोपहर में सूरजhindi kavita,
आधी रात की तरह नीला चमकता है
चारों ओर रात का अँधेरा
प्रकाश के अभाव का द्योतक है
हृदय फाट गज विज छावनी
चौ दश एक रंग माही फेलानी
जल, वायु, प्रकाश के साथ
भोम पाल माँ बानी शिविर
कुदरत ने आज की प्यास बुझा कर बोया है प्यार
समुद्र ने ही मांगी
सरिता, सरिता ने दिखाया प्यार का एहसास

2022 hindi kavita,short poem in hindi

अंतिम विदाई के समय
हम सब हरे वृक्षों के साक्षी बने।
कोई गम नहीं, कोई शिकायत नहीं, कोई गम नहीं, नहीं,
तेरा चेहरा नहीं दिखता।hindi kavita,
पूर्ण मोहरजन अध्यात्म
बंधनों के अंतिम विघटन से प्राप्त होता है।
नया बनाया जो आनंदमय ईथर,
शाश्वत सुगंध ने अनंत वैदिक को वापस उड़ा दिया।
कल्याणपंथ कड़ी खेलते हुए वर्षा शुभाशीषों ने शाश्वत समाधि ली।
आपके चरणों में मस्तक झुका तो भी
हम दीक्षा विदा ले सके।

कोई फर्क नहीं पड़ता कि आप दोस्त हैं, आपके विचार
हर जगह आएंगे।hindi kavita,
आपके लटके हुए तनाव, और आपके गालों पर झाइयां कभी-कभी
खींचती हैं और कभी-कभी डूब जाती हैं, अगर स्मृति मन में आती है।
तेरी खूबसूरती, तेरा चितवन, याद्दाश्त पर असर।
मेरे दोस्त, दुनिया का वह कोना कहाँ है, चिंता मत करो मैं कहाँ हूँ?
पलव तुझे, जहाँ शाम ढलती है, सुबह तेरी मुस्कान से ढल जाती है…
यह आकर्षण क्या है? यह प्यार क्या है? यह प्यार क्या है? यह किसका इंतजार कर रहा है?
आप क्या ढूंढ रहे हैं? कभी कभी ख्याल आता है…

सजना सजना
मीठे-मीठे बोलती है, दिन के मधु में डुबाकर हर शब्द तौला जाता है।
जब भी निहालू अपना चुलबुला लुक
लेते हैं तो हम बेहिसाब बहक जाते हैं।
खंजर बाण का कौन सा झरना हमारी
आँखों से धीरे-धीरे छिल रहा है
एक सज्जन के स्नेह का क्या चमत्कार है,
हमारी आंखें भी शराब के प्याले बहा देती हैं।

hindi kavita, poem in hindi

अगर आपको गलत लगता है तो मुझे क्या करना चाहिए?
मुझे दिखावा करने की आदत है।
मैं ओस को छूता हूं, बादल को छूता हूं, गिरती बारिश को छूता हूं;
मुझे झरनों का पानी दो, और यदि तुम मुझे बुलाओगे, तो मैं पल भर में अपने आप को पी जाऊंगा।
अगर आपको गीला नहीं लगता है तो मैं क्या करूँ?
मैं बहुत रोता था। kavita in english 2
कभी रंगीन तितलियों के साथ उड़ने का सपना देखा है?
कभी ढलान वाले रास्ते पर फिसलने के बारे में सोचा है?
तुम घटती लहरों से भय अनुभव करते हो,
मैं उफनते समुद्र का अभ्यस्त हूं।hindi kavita,
आज धीरे से तुझसे जुदा हो गया, भले ही तू मुझमें लीन हो जाए;
अशांत हवा की तरह बहते हुए, यदि आप चार दीवारों के पार जाते हैं।
तारे कहवी हो हा ने खिलौना तू कह करे तने
ना रे ना तवे।

मैं अंत में थक गया और बादलों से कहा, तुम बिना बारिश के क्यों जा रहे हो!
मेघ कहता है कि बारिश भी हो जाए तो भैया कहाँ भीग रहे हो?
मैने कहा आप क्या कर रहे हैं? पिछले साल कहाँ थी छाता खोलने की आदत?
बादल कहाँ है, रहने दो और उसे भीगने दो, फिर वह भीतर से उगेगा,
हम बारिश के बाद थके हुए हैं, तुम कहाँ हरे हो रहे हो?
आप कहाँ हैं?hindi kavita,
मैंने कहा, आप ऐसे व्यक्ति को नुकसान पहुंचाने के लिए क्या कर रहे हैं?
बादल कब मुझे तुम में छिपा लेगा, एक हरी शाखा?
मूल का पता नहीं मिला है और आप कुमपाल के गीत क्यों गा रहे हैं?
आप कहाँ हैं?
मैंने कहा, इस तरह अपनी प्यास बुझा कर तुम कोई भला नहीं कर रहे हो,
बादल क्या है?
बार-बार भारी बारिश हो रही है, मुझे बताओ, तुम बच्चों की तरह नहा रहे हो?
आप कहाँ हैं?hindi kavita,

तुम छोटे हो, मैं बड़ा हूँ –
दुनिया में यह धारणा गलत है;
यह छोटा वाला, यह बड़ा वाला –
ऐसा मूर्ख।
खारे पानी से भरा समुद्र
, ढेर सारा मीठा पानी;
प्यास
समुद्र से बड़ी लगती है।
छोटे पौधे से किस तरह का गुलाब का फूल
महकता है!
क्या आपको लगता है कि आप एक ऊँचे पेड़ में निहित होंगे
?
तुम छोटे हो, मैं बड़ा हूँ –
दुनिया में यह धारणा गलत है;
छोटा दिमाग छोटा होता है,
बड़ा दिमाग बड़ा होता है…

1 thought on “hindi kavita,short poem in hindi [ 2022 ]”

  1. Pingback: A 1 world happy,with love [ 2022 ] new

Leave a Comment

Your email address will not be published.